‘अनाथ बच्ची’ (एकांकी) है-जिसमें रोमांचक पहलू यह है कि एक शराबी-कुण्ठित, अविवाहित युवा अनाथ बच्ची को पड़ा देख मुंह फेर कर आगे बढ़ जाना चाहता है, पर एकदम पैदा हुई परिस्थितियां उसकी मानवीयता को द्रवित कर, इस बात को मजबूर कर देती हैं कि वह अनाथ बच्ची का नाथ बनने के लिए दोनों हाथों को बढ़ा दें। एक बार हाथ बढ़े तो न सिर्फ अनाथ बच्ची, कुण्ठित युवा का सहारा बन उसकी जीवन नौका की दिशा बदलती चली जाती है बल्कि अविवाहित युवा भी अनाथ बच्ची को सर्वगुण सम्पन्न बना उसे समाज में एक ऐसा मुकाम दिलाने में सफल होता है, जिसके लिए लाखों लोग लालसा करते हैं।

पुस्तक का विवरण
Author
डा. फखरे आलम खान 'विद्यासागर'
ISBN
978-81-934483-1-1
Language
Hindi
Page & Type
102, E-Book
Genre
Fiction
Publish On
2018
Price
₹ 64 (E-Book)
Publisher
Prachi Digital Publication

इस पुस्तक को यहां से प्राप्त कर सकते हैं-

BOOK STORE’S
BOOK FORMAT
BUY LINK
Google Play
Paperback, E-Book
Buy Here
Kobo
Paperback
Buy Here
Readwhere
Paperback, E-Book
Buy Here
iBooks
Paperback
Buy Here
Smashwords
E-Book
Buy Here
Playester
E-Book
Buy Here
24Symbols
E-Book
Buy Here
Scribd
E-Book
Buy Here

E-Book
Buy Here

E-Book
Buy Here

E-Book
Buy Here

E-Book
Buy Here



Next
Newer Post
Previous
This is the last post.
Axact

indiBooks

Indian Books Reviews, Indian Authors, Best Selling Books, Fication, Books, Book Recommendations, Authors Interviews, New launche Books



loading...

POST A COMMENT :