‘मौसम का तोहफ़ा’ की लेखिका मौसमी विष्णु जी से साक्षात्कार

0
60

पेशे से इंजीनियर लेखन की दुनिया में सक्रिय मौसमी विष्णु जी का साक्षात्कार हमें प्राप्त हुआ। मौसमी जी की कविताओं की दो ई-बुक प्रकाशित हो चुकी है। मौसमी जी साक्षात्कार के लिए समय देने के लिए आपका धन्यवाद। प्रस्तुत है मौसमी विष्णु जी का साक्षात्कार-

indiBooks : कृपया संक्षेप में अपने शब्दों में अपना परिचय दें?
Mousmi Bishnu : मेरा नाम मौसमी विष्णु है। पेशे से मैं एक इंजीनियर हूं। कविताये, कहानियां लिखना और तस्वीर लेना मेरा शौक है। इसके साथ ही मुझे हिंदी गानों से बहुत लगाव है।

indiBooks : हाल ही में प्रकाशित अपनी नई किताब के बारे में बताएं?
Mousmi Bishnu : मेरी नई ई-पुस्तक है “मौसम का तोहफा-II जो अमेज़न पर उपलब्ध है। ये पुस्तक 50 कविताओं, लघु कथाओ का मिश्रण है। प्रत्येक लेखनी आधुनिक जीवन शैली से जुड़ी हुई है जो मेरे अनुभव को शब्दों का रूप देती है।

indiBooks : पुस्तक प्रकाशन के लिए विचार कैसे बना या कैसे प्रेरित हुए?
Mousmi Bishnu : इससे पहले भी मेरी एक पुस्तक प्रकाशित हो चुकी है। जो इस ई पुस्तक का प्रथम भाग है। मैंने बहुत सारे लेखकों को पढ़ा है, कुछ लेखकों से बात चीत भी की है और अंततः ये सोचा कि मैं भी पुस्तक लिख सकती हूं। मैंने किंडल के बारे में विस्तृत जानकारी हासिल की और इस तरह पुस्तक प्रकाशन का विचार बनाया।

indiBooks : आपकी पसंदीदा लेखन विधि क्या है, जिसमें आप सबसे अधिक लेखन करते हैं?
Mousmi Bishnu : शुरआत में तो प्रेम पर ही लिखती थी। जैसे जैसे लेखन में सुधार होता गया, पाठको की मांग बढ़ने लगी तो मैंने दूसरे वर्गों पर भी विचार किया। फिलहाल तो हर तरह के लेख लिख लेती हू परंतु प्रेम पर लिखना मुझे आज भी पसंद है।

indiBooks : अपने पाठकों और प्रशंसकों को क्या संदेश देना चाहते हैं?
Mousmi Bishnu : सर्वप्रथम सभी पाठको और प्रशंसको को दिल से धन्यवाद। क्योंकि अगर वो ना होते तो एक लेखक को कौन पढ़ता और सराहता। उनके लिए बस यही संदेश है कि आने वाले समय मे मैं उन्हें और भी अच्छा लेख दूंगी और अपनी कमियों को दूर कर और भी बेहतर तरीके से खुद को व्यक्त करूँगी।

indiBooks : क्या वर्तमान या भविष्य में कोई किताब लिखने या प्रकाशित करने की योजना बना रहें हैं?
Mousmi Bishnu : भविष्य में ऐसा विचार तो है कि एक और पुस्तक लेकर आऊ। कुछ कुछ लघु कहानियां लिख रही हूं। जिस दिन ये संकलन पूरा हो जाएगा तो इसे पुस्तक में परिवर्तित कर दूंगी।

indiBooks : आपका सबसे प्रिय लेखक / लेखिका और उनकी रचनाएँ / किताब?
Mousmi Bishnu : 20 से 24 वर्ष के आयु तक मैंने प्रेमचंद को पढ़ा है। उनकी अधिकतम रचनाये- गोदान, निर्मला, कफन, मानसरोवर, बूढ़ी काकी और भी अन्य रचनाये पढ़ी है। उसके बाद ऐसे कई लेखक है जिनकी रचनाये मुझे बेहद पसंद आयी। मेरी पसंदीदा किताब है- रश्मिरथी जो रामधारी सिंह दिनकर जी ने लिखी है।

indiBooks : लेखन के अलावा आपके अन्य शौक क्या हैं, जिन्हे आप खाली समय में करना पसंद करते हैं?
Mousmi Bishnu : लेखन तो सबसे पसंदीदा शौक है। उसके अलावा मुझे तस्वीरे लेना बहुत पसंद है। उन तस्वीरों को अपने ढंग से बनाना, गाने सुनना और सैर सपाटा करना बहुत पसंद है।

indiBooks : क्या आप भविष्य में भी लेखन की दुनिया में बने रहना चाहेंगे?
Mousmi Bishnu : जी बिल्कुल..जिस प्रकार एक मछली जल बिन मृत है वैसे ही मैं लेखन किये बिना खुद को पूरा नही समझती।

About the Author’s Book (मौसम का तोहफ़ा – II)

मौसम का तोहफ़ा-II एक काव्य संग्रह है। जिसमे आपको कविताएं, छंद,अनुच्छेद,ग़ज़ल मिलेंगी।विषय सारे जाने पहचाने मिलेंगे परंतु उनका चित्रण मैंने आधुनिक रूप में किया है। कुछ ऐसी बाते मिलेंगी जिसे आप अपने जीवन से जोड़ कर देख पाएंगे

prachi
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments