Anjani Sharma ‘Amrita’

1
48
Prachi

अंजनी शर्मा जी कवयित्री व लेखिका हैं और शिक्षा सेवा के क्षेत्र में कार्यरत हैं। अंजनी जी का साहित्यिक उपनाम ‘अमृता’ है। आपकी रचनाएं देशभर की विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में प्रकाशित होती रहती हैं। अंजनी जी कई साहित्यिक संस्थाओं से जुड़ी हुई हैं। आप अब तक दर्जन भर से ज्यादा साझा संकलनों में सक्रिय भूमिका में शामिल रह चुकीं हैं। आपके उत्कृष्ट साहित्यिक सृजन के लिए कई साहित्यिक संस्थाओं द्वारा सम्मानित भी किया जा चुका है।

व्यक्तिगत परिचय

पिता का नाम : श्री रामकुमार शर्मा

माता का नाम : श्रीमती सावित्री शर्मा

पति का नाम : श्री सुभाष शर्मा

शिक्षा : स्नातक (हिंदी विशेष), परास्नातक प्रतिष्ठा (हिंदी विशेष), परास्नातक प्रतिष्ठा (शिक्षा विशेष), बी.एड, एम.एड, शोधरत (पी.एच.डी), स्नातकोत्तर राज्य स्तरीय परीक्षा उत्तीर्ण (पी.जी.टी हिंदी टेट), संगणक प्रशिक्षण प्राप्त, हिंदी व अंग्रेजी टंकण प्रशिक्षित।

सम्प्रति : प्रशिक्षित स्नातकोत्तरीय हिंदी शिक्षिका, संगणक व भाषा तकनीकी प्रशिक्षिका, कवयित्री, लेखिका, उप संपादक (सामयिक परिवेश हिंदी पत्रिका हरियाणा अध्याय, गद्य अध्यक्ष (अग्रसर मंच, कोटपुतली), सचिव (सोशल मीडिया मंच), मंच संचालिका, कार्यशाला संसाधक (विशेषज्ञ), राष्ट्रीय भाषा सेवा संघ, राष्ट्रवादी लेखक संघ संस्था की मुख्य सदस्या, ‘आरंभ उद्घोष कनाडा विश्व हिंदी संस्थान की मुख्य सदस्या व हिंदी सेवी व प्रचारक।

लेखन विधा : पद्य एवं गद्य। विद्यालयी जीवन से काव्य लेखन में संलग्न प्रेमचंद, प्रसाद, शरतचंद्र से अत्यधिक प्रभावित।

रचना प्रकाशन : विभिन्न राष्ट्रीय साहित्यिक पत्रिकाओं, आंचलिक पत्र व पत्रिकाओं में निरंतर रचनाओं व लेखों का प्रकाशन, समाचार : पत्रों में साहित्यिक प्रस्तुतियों की झलकियाँ।

सक्रिय सदस्य : हिंदुस्तानी भाषा अकादमी एवं अन्य ऐसी ही शताधिक विभिन्न संस्थाओं की सक्रिय सदस्य।

साहित्यिक सम्मान : आचार्य चाणक्य सम्मान, डॉ.सर्वपल्ली राधाकृष्णन सम्मान, महात्मा गाँधी अंतरराष्ट्रीय सम्मान, लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय सम्मान, राष्ट्रकवि दिनकर साहित्य सम्मान, काव्य श्री सम्मान, साहित्य अंगना सम्मान, हिंदी साहित्य गौरव सम्मान, साहित्य शिरोमणि, कलम शिरोमणि, राष्ट्रीय हिंदी साहित्यकार सम्मान, हिंदी साहित्य गौरव सम्मान, माँ अक्षरा गौरव सम्मान, श्रेष्ठ प्रतिध्वनि आदर्श शिक्षक सम्मान, सृजन सम्मान, हिंदी साहित्य शिखर सम्मान, हिंदी साहित्य रत्न सम्मान, साहित्य श्री सम्मान, साहित्य सेवा सम्मान, काव्य शिरोमणि सम्मान, काव्य प्रतिभा सम्मान, मुंशी प्रेमचंद सम्मान, शब्द वीर सम्मान, महक : साहित्य : दर्शन सम्मान, नवांकुर साहित्य समर्पण सम्मान, लोकप्रिय साहित्य सृजन सम्मान, संकल्प सम्मान आदि चार सौ से अधिक सम्मानों से अलंकृत।

प्रकाशित पुस्तकें

  1. नारी तू अपराजिता (महिला प्रधान साझा काव्य संकलन)
  2. स्वदेश प्रेम (काव्य संग्रह]
  3. काव्य मंजरी (साझा संकलन)
  4. ‘2 अक्टूबर’ (साझा संकलन)
  5. पाँचजन्य काव्य प्रसून (काव्य संग्रह)
  6. साहित्य मंजरी (काव्य संग्रह)

प्राप्त उपलब्धियाँ एवं सम्मान

  1. विभिन्न मंचों पर जीवंत काव्य : पाठ व सम्मानित, विभिन्न साहित्यिक गतिविधियों, विभिन्न गोष्ठियों, संगोष्ठियों में वक्ता व सहभागी रूप में शामिल, संलग्न और प्रशस्ति पत्र की प्राप्ति व सम्मानित।
  2. हिंदुस्तानी भाषा अकादमी द्वारा प्रदत्त ‘भाषा गौरव श्रेष्ठ शिक्षक सम्मान’द्वारा सम्मानित।
  3. नोबल्स स्नातकोत्तर महाविद्यालय रामगढ़ एवं भर्तहरि टाइम्स द्वारा चार बार प्रशस्ति पत्र प्राप्ति व नवोदित रचनाकार रूप में सम्मानित।
  4. डब्ल्यू. डब्ल्यू. सी. राष्ट्रीय महिला काव्य मंच पर तीन बार सम्मानित।
  5. साहित्यिक मित्र मंडल जबलपुर द्वारा काव्य उत्सव समारोह में नवोदित रचनाकार के रूप में सम्मान व प्रशस्ति पत्र प्राप्त।
  6. राष्ट्रीय भाषा सेवा संघ द्वारा आठ बार सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन हेतु प्रशस्ति पत्र प्राप्ति व सम्मानित।
  7. बहुभाषा संगम संस्था हुबली भारत द्वारा श्रेष्ठ प्रस्तुति हेतु प्रशस्ति पत्र व सम्मान प्राप्त।
  8. मीन साहित्य संस्कृति मंच द्वारा प्रस्तुत स्वरचित काव्य : पाठ प्रतियोगिता में श्रेष्ठ स्थान व प्रशस्ति पत्र तथा ‘काव्य ‘साहित्य संगम सम्मान’ प्राप्त।
  9. मीन साहित्य संस्कृति मंच द्वारा प्रस्तुत स्वरचित काव्य : पाठ प्रतियोगिता में विशेष स्थान व प्रशस्ति पत्र तथा ‘काव्य ‘शब्द वीर सम्मान’ प्राप्त।
  10. राष्ट्रीय साहित्यिक परिवर्तन मंच द्वारा प्रस्तुत स्वरचित काव्य : पाठ प्रतियोगिता में श्रेष्ठतम प्रस्तुति प्रदाय हेतु सर्वोत्तम स्थान व प्रशस्ति पत्र तथा ‘काव्य ‘सरोजिनी नायडू गौरव सम्मान’ प्राप्त।
  11. प्रतिध्वनि साहित्यिक परिवार की ओर से ‘प्रतिध्वनि आदर्श शिक्षक सम्मान’ से अलंकृत।
  12. ज्ञानोदय साहित्य संस्था कर्नाटक द्वारा शिक्षण क्षेत्र में सराहनीय योगदान हेतु प्रशस्ति व ‘श्रेष्ठ शिक्षक’ सम्मान प्राप्त।
  13. अखिल भारतीय शिक्षक दिवस कवि सम्मेलन द्वारा आयोजित अखिल भारतीय कवि सम्मेलन में उत्कृष्ट साहित्यिक प्रस्तुति हेतु ‘श्री साहित्य नमन गुरु सम्मान’ से अलंकृत।
  14. सामयिक परिवेश राजस्थान अध्याय मंच द्वारा प्रस्तुत स्वरचित काव्य : पाठ प्रतियोगिता में अति विशिष्ट सृजन हेतु सामयिक परिवेश हिंदी पत्रिका की ओर से प्रशस्ति पत्र प्राप्त व सम्मानित।
  15. विभिन्न साहित्यिक संस्थाओं व विश्वविद्यालयों, महाविद्यालयों द्वारा आयोजित साहित्यिक प्रतियोगिताओं में पूर्ण व सर्वश्रेष्ठ प्रस्तुतीकरण हेतु चार सौ से अधिक प्रशस्ति व सम्मान पत्र प्राप्ति।
  16. हिंदुस्तानी भाषा अकादमी के मुख्य पृष्ठ पर साक्षात्कार।
  17. अनेक पत्र पत्रिकाओं में काव्य रचनाएँ प्रकाशित, काव्य गोष्ठियों में काव्य : पाठ व सम्मानित श्री नरेंद्र मोदी पर शोध लेख।
  18. जांभाणी साहित्य व मध्यकालीन साहित्य की प्रासंगिकता पर शोध पत्र।
  19. हिंदुस्तानी भाषा भारती पत्रिका में भारतीय भाषाओं की चुनौतियों में हिंदी भाषा पर शोध पत्र।
  20. विभिन्न विषयों पर शोध पत्र विभिन्न समाचार पत्रों, पत्रिकाओं में प्रकाशन।
prachi

1 COMMENT

  1. आदरणीया अंजनी शर्मा जी बहुत बहुत बधाई आप बहुत सुंदर लिखती हैं आपकी रचनाओं को पढ़ कर बहुत ही गर्व महसूस होता है इतनी सम्मानित कवियत्री का सानिध्य प्राप्त हुआ ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here