‘एहसास के पन्ने’ पुस्तक में पाँच विधाओं का समावेश लेखिका का बहुत सुंदर प्रयास है

0
41
Prachi

 

“एहसास के पन्ने” गागर में सागर, सच कहूँ तो ऐसा कहना कोई आश्चर्य की बात नहीं होगी क्योंकि जितना सुंदर पुस्तक का नाम है उतनी ही सुंदर रचनाओं से गूथे गए अहसास बसे हैं इस पुस्तक में। एक एक पंक्ति मानो अपने अहसासो से हमे मिलवाना चाह रही हो। मैं एक समीक्षक और पाठक के रूप में यही कहूंगी कि लेखिका ने पांच विधाओं की रचनाओं को एक पुस्तक में गूंथकर बहुत सुंदर प्रयास किया है। साहित्यिक पाठक के लिए यह बेहतरीन उपहार है।

Book Information’s

Title
Author
Price
₹271.00
Publisher
Publish on
5 February 2021
Reviewed by
Shahana Parveen

Book Review

प्रीति चौधरी ‘मनोरमा’ द्वारा लिखी तनीशा पब्लिशर्स के सानिध्य में प्रकाशित “अहसास के पन्ने” अनेक अहसासो से रचे बसे वो पन्ने हैं जो किसी भी पाठक के मन में हलचल पैदा करने के लिए काफी हैं। प्रीति चौधरी ‘मनोरमा’ का यह वो संकलन है जिसमे गद्य व पद्य दोनो का समावेश किया गया है। 204 पन्नो की यह पुस्तक वास्तव में किसी भी पाठक को आकर्षित करने के लिए काफी है। अगर कोई कविता पढ़ने मे रूचि रखता है या किसी को कहानियों में रुचि है तो एहसास के पन्ने उसके लिए उपयुक्त पुस्तक मानी जा सकती है। कहानियाँ, लघुकथाएँ, कविता, बालगीत और अनुवादित रचनाएँ सभी कुछ लेखिका ने अहसास के पन्नो में लिख दिया है जो अपने आप में एक नवीन अहसास है। हर रचना बोलती दिखाई पड़ रही है। सुंदर व प्रेरणादायक कहानियाँ, लघुकथाएँ नया जोश व उत्साह भरने के लिए काफी हैं।

एक ही संकलन में पाँच विधाओं का समावेश वास्तव में लेखक का बहुत सुंदर प्रयास है। आज की भागदौड़ भरी ज़िंदगी में जहाँ हम नकारात्मक के जाल में फंसते जा रहे हैं, वहीं ‘एहसास के पन्ने’ पढ़कर हम सकारात्मकता की ओर आगे कदम बढ़ायेगें। मार्मिक, संवेदनशील कहानियाँ, कविताएँ जहाँ आँख़ में आँसू लाने में सक्षम हैं, वहीं जीवन में प्रेम के मीठे अहसास भी बयां कर रही हैं। मन में उत्साह जगाने व प्रेम का दीपक जलाने के लिए पाठकगण सुखद अनुभूति को महसूस करेगें। एक ही संकलन में पाठक़ को इतना कुछ पढ़ने के लिए मिल रहा है इससे बेहतर और क्या कुछ हो सकता है? बाल गीत इतने सुंदर ढंग से लिखे गए हैं कि अगर बच्चो को पढ़कर सुनाया जाए या बच्चे स्वयं पढ़े तो उन्हें सरलता से याद हो जायेगें और इससे उनके जीवन को एक नई दिशा भी मिलेगी।

कहानियों में रहस्यात्मक दृश्यों ने जहाँ जिज्ञासा को बढ़ाया है, वहीं प्रेम रचनाओ ने मन में प्रेम गीत गुनगुनाने को बाध्य भी किया है। जिनकी पढ़ने में रूचि है उन्हें इस संकलन को अवश्य पढ़ना चाहिए। कुल मिलाकर यही कहा जा सकता है कि पाठको को प्रीति चौधरी जी का यह संकलन जो कविता व कहानी संग्रह है बेहद पसंद आयेगा। कोई भी रचना पढ़ने के बाद पाठक को ऐसी अनुभूति होगी कि यह सब उसके जीवन का ही एक भाग है। करीब से जानने के लिए एक बार अहसास के पन्नों को खोलना आवश्यक है। भाषा शैली सरल और सौम्य है प्रत्येक पाठक को सरलता से समझ में आ जायेगी। बच्चों के बालगीत जहाँ बच्चो को पसंद आयेगें वहीं वृद्ध नर नारी भी प्रसन्नता पूर्वक उनको पढ़ने में रूचि लेगें।

इस संकलन की विशेष बात यह है कि इसमे अनुवादित रचनाएँ अपने आप में नये विचारो को जन्म देती है। रचनाएँ पढ़ने के बाद ही पता चलेगा कि पाठको ने इस संकलन को पढ़कर कुछ पाया ही है खोया कुछ भी नहीं। एक बार अहसास के पन्ने अवश्य पढ़नी चाहिए।

‘एहसास के पन्ने’ अमेजन या फ्लिपकार्ट से प्राप्त की जा सकती है-

prachi
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments