Dr. Usha Kiran Yadav

0
12

डॉ. उषा किरन यादव जी कवयित्री व लेखिका हैं और प्रतिष्ठित विद्यालय से सेवानिवृत्त प्रधानाचार्या है। डॉ. उषा किरन यादव जी की रचनाएं, आलेख देश के प्रमुख राष्ट्रीय समाचार पत्रों तथा पत्रिकाओं में समय-समय पर कविताएं प्रकाशित होती रहती हैं। डॉ. उषा किरन जी काव्य (मुक्तक, नवगीत), निबन्ध आदि विद्याओं में लेखन करतीं है। डॉ. उषा किरन जी को उनके उत्कृष्ट साहित्यिक सृजन के लिए कई साहित्यिक संस्थानों द्वारा सम्मानित किया जा चुका हैं।

व्यक्तिगत परिचय

जन्मतिथि : 01.04.1955

जन्म स्थान : सीतापुर (उ0प्र0)

पिता : स्व0 श्री तामेश्वर प्रसाद यादव

माता : स्व0 श्रीमती दमयन्ती देवी यादव

शिक्षा : स्नातकोत्तर (अंग्रेजी, समाजशास्त्र), पीएच0डी0 (समाजशास्त्र), बी0एड0, (सेवानिवृत्त प्रधानाचार्या)

लेखन विद्या : मूलतः काव्य (मुक्तक, नवगीत), निबन्ध, ‘गुनगुनी धूप’ प्रकाशाधीन

गतिविधियाँ : काव्य पाठ, वार्ता, लेखन, अध्यापन, एन0सी0सी0 (मेजर पद) से सम्बन्धित प्रशासनिक गतिविधियाँ, बसन्त पंचमी के अवसर पर नियमित काव्य पाठ, योगा शिविर संचालन (हरिद्वार), समाज सेवा सम्बन्धित आयोजनों में नियमित संलिप्तता। देश के प्रमुख राष्ट्रीय समाचार पत्रों तथा पत्रिकाओं में समय-समय पर कविताएं प्रकाशित।

प्रकाशित पुस्तकें

  1. नारी तू अपराजिता (महिला प्रधान साझा काव्य संकलन)
  2. गौरैया के पर (साझा संकलन)
  3. जाने कितनी सहस्त्राब्दियाँ (साझा संकलन)
  4. काव्य रचना (द कैडेट) एकता और अनुशासन (साझा संकलन)
prachi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here