Kala Bhardwaj

0
44

कला भारद्वाज जी कवयित्री एवं लेखिका हैं और एक साहित्य सेविका संस्थान में कार्यरत हैं। कला भारद्वाज जी रचनाएं कई साझा संकलनाें में प्रकाशित हो चुकीं हैं और कई पत्रिकाओं में उनकी रचनाएं प्रकाशित होती रहती हैं। आप सभी साहित्यिक विद्याओं में लेखन करती हैं, लेकिन कविताएं लिखना कला भारद्वाज जी काे प्रिय है, इसके अलावा कला जी भजन भी लिखतीं हैं। कला भारद्वाज जी को उनके उत्कृष्ट साहित्यिक सृजन के लिए कई साहित्यिक संस्थानों द्वारा सम्मानित किया जा चुका हैं।

व्यक्तिगत परिचय

पति : श्री रूप लाल भारद्वाज

माता : श्रीमती सुभद्रा देवी

पिता : श्री रूप दास शर्मा

जन्म तिथि : 31 दिसंबर 1981

जन्मस्थान : शिमला, हिमाचल प्रदेश

शिक्षा : स्नातकोत्तर हिंदी विषय में

व्यवसाय : गृहिणी, लेखन कार्य, साथ ही राष्ट्रीय साहित्यिक संस्था साहित्य सागर में एक वर्ष से बतौर संचालिका काम कर रही हूँ।

पसंदीदा लेखन विधा : लगभग सभी विधाओं में लिख लेती हूँ परंतु कविता लेखन बहुत अच्छा लगता है।

सम्मान : विभिन्न साहित्यिक संस्थाओं द्वारा सर्वश्रेष्ठ रचनाकार के रूप में सम्मानित। इसके अलावा राष्ट्रीय साहित्यिक संस्था साहित्य सागर से “साहित्य लहरी सम्मान” व “साहित्य शिरोमणि सम्मान”।

प्रकाशित रचनाएं : नवदीप साझा संग्रह। इसके अलावा साहित्यनामा पत्रिका में भी कुछ रचनाएं प्रकाशित हो चुकी है। इसके साथ ही चार साझा संग्रह प्रकाशनाधीन है।

अनुभव : यूँ तो भजन इत्यादि बहुत पहले से लिखती थी, लेकिन निरंतर लेखन दो वर्षों से शुरू है।

प्रकाशित पुस्तकें

  1. नारी तू अपराजिता (महिला प्रधान साझा काव्य संकलन)
prachi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here