Pawan Verma

0
16

जम्मू निवासी लेखक एवं कवि पवन कुमार वर्मा जी कई साझा पुस्तकों में सक्रिय रह चुकें है और हिन्दी साहित्य के क्षेत्र में सदैव एक्टिव रहते हैं। लेखक को साहित्य के क्षेत्र में अमूल्य साहित्यिक योगदान के लिए अब तक कई सम्मान प्राप्त हो चुकें है। पवन वर्मा जी पेशे से एक इंजीनियर हैं।

जन्मतिथि : 01-10-1983

पिता का नाम : श्री रणमोहन वर्मा

माता : श्रीमती वीरती वर्मा

पत्नी : श्रीमती पल्लवी अरोड़ा वर्मा

संप्रति : इलेक्ट्रिकल इंजीनियर (कम्युनिकेशन सेक्टर)

सम्मान : माता चंपा देवी राष्ट्रीय कला सम्मान 2019, महात्मा गांधी दर्शन पुरस्कार 2019, प्रभात गौरव सम्मान 2020, कलकि गौरव सम्मान 2020, राष्ट्रीय प्रतिभा सम्मान 2020, काव्य स्वर्ण सम्मान 2020, साहित्य प्रणेता सम्मान 2020, रा. अग्रसर भाषा बोली सम्मान 2020।

अन्य उपलब्धियाँ : लेखन के साथ-साथ रंगमंच भी करता हूं। पिछले 20 वर्षों से रंगमंच के साथ जुड़ा हुआ हूं। कईं राष्ट्रीय तथा अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मंचन किया है। जिनमें प्रमुख हैं- ईयर ऑफ इंडिया इन रशिया, मास्को-2009, फ्रैंकफर्ट इंटरनेशनल थियेटर फेस्टिवल, फ्रैंकफर्ट-2009, कॉमन वेल्थ गेम्स-2010 , 101 st इंडियन साइंस कांग्रेस-2014, इंटरनेशनल थिएटर ओलंपिक्स-2018 आदि।

प्रकाशित पुस्तकें

  1. स्वदेश प्रेम (साझा काव्य संग्रह)
  2. अनामिका (साझा काव्य संग्रह)
  3. निकक्डे़ फंघडू उच्ची उडा़न (बाल कविताएं सांझा संग्रह)
  4. मां तेरे आंचल की छांव (साझा काव्य संग्रह -वर्ल्ड रिकॉर्ड बुक)
  5. साहित्य मंजरी (साझा काव्य संग्रह)
  6. डोगरें दियां मेदां (साझा काव्य संग्रह)
  7. पांचजन्य काव्य समूह (साझा काव्य संग्रह)
prachi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here